Tuesday, Apr 13, 2021
-->
Indian-origin student suggested name of NASA Mars helicopter prsgnt

भारतीय मूल की छात्रा ने सुझाया नासा के मार्स हेलीकॉप्टर का नाम, नासा ने की घोषणा

  • Updated on 4/30/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नासा के पहले मार्स हेलीकॉप्टर का नाम रख लिया गया है जिसका  श्रेय जाता है भारतीय मूल की वनीज़ा रुपाणी को। वनीजा ने एक कांटेस्ट जीत कर ऐसा किया है।

दिसंबर 2021 तक अंतरिक्ष में मानव भेजेगा भारत : ISRO चीफ

बताया जा रहा है कि अल्बामा के नॉर्थपोर्ट में स्थित एक हाई स्कूल में पढ़ने वाली वनीज़ा रुपाणी ने नासा के ''नेम द रोवर'' कॉन्टेस्ट में हिस्सा लिया था जिसमें हेलीकॉप्टर के नाम  पर एक निबंध लिखना था।

सफरनामा 2019: इसरो की ठनी रही चांद से, इन तीनों की रही चर्चा

अब वनीसा के सुझाव के बाद, नासा के इस मार्स हेलीकॉप्टर को आधिकारिक रूप से इंजिन्यूटी (Ingenuity) नाम दे दिया गया है। यह अपने तरह का पहला विमान है जो दूसरे ग्रह पर संचालित उड़ान भरेगा।

Chandrayaan-2 को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, ऑर्बिटर ने भेजी कुछ हैरतअंगेज तस्वीरें

बताया जाता है कि नासा ने मार्च में घोषणा की थी कि वो अपने दूसरे रोवर का नाम परसेवरैंस (Perseverance) रखेंगे। इस नाम को भी सातवीं कक्षा के बच्चे एलेक्जेंडर माथर के निबंध के आधार पर रखा गया और इसलिए इस मार्च हेलीकॉप्टर का नाम भी निबंध के आधार पर रखने का फैसला लिया।

Chandrayaan-3: भारत अगले साल नवंबर में फिर कर सकता है 'सॉफ्ट लैंडिंग' का प्रयास

इस बारे में नासा ने ट्वीट कर लिखा, ''हमारे मार्स हेलीकॉप्टर का नया नाम है इंजिन्यूटी। छात्रा विनेज़ा रूपाणी ने 'नेम द रोवर' कांटेस्ट में यह नाम सुझाया था। इंजिन्यूटी मार्स की सवारी @NASAPerservere के साथ करेगा और दूसरी दुनिया में उड़ान भरेगा।''

यहां यह भी बता दें कि नासा के अनुसार, वनीज़ा के निबंध को 28,000 छात्रों के निबंध में से चुना गया, यूएस के हर एक राज्य और क्षेत्र से निबंध भेजे थे। इसके बाद नासा ने मार्च हेलीकॉप्टर के नाम की घोषणा कर दी।

comments

.
.
.
.
.