Wednesday, Feb 01, 2023
-->
Know why the demand for eggs increased in the second wave of Corona albsnt

जानें Corona की दूसरी लहर में आखिर क्यों बढ़ी अंडों की डिमांड?

  • Updated on 6/2/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश में साल के शुरुआत में बर्ड फ्लू के दस्तक देने के बाद अंडा की मांग घट गई थी। लेकिन अब फिर से डिमांड बढ़ गई है। कोरोना की दूसरी लहर के दस्तक देने के बाद यह मांग में तेजी ही कायम रही।

रामदेव का दावा, हफ्ते भर में ब्लैक फंगस की दवा लाएगी पतंजली, फाइनल स्टेज पर है काम

बता दें कि विशेषज्ञों की मानें तों महामारी के दौरान रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में अंडा का अहम योगदान है। जिस कारण कोविड के समय प्रति अंडे का खुदरा मूल्य अलग-अलग इलाकों में छह से सात रुपए तक पहुंच गयाहै। दरअसल अंडे में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन रहने से डॉक्टर सेवन करने का सलाह देते है।

दिल्ली: छोटी आंत में ब्लैक फंगस मिलने से डॉक्टर हैरान, ऐसे मामले अति दुर्लभ

मालूम हो कि इस बाबत पशुपालन, पोल्ट्री और दुग्ध मंत्रालय के संयुक्त सचिव ओ पी चौधरी ने स्वीकार किया कि कोविड के दूसरे लहर में अंडे के मांग बढ़ने से उन्हे कोई आश्चर्य नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि अंडे में 11 प्रतिशत तक प्रोटीन रहता है।  उन्होंने बताया कि 2019-20 में पिछले साल की तुलना में प्रति व्यक्ति सालाना सेवन 79 अंडों से बढ़कर 86 पहुंच गया। उधऱ  गुरुग्राम के स्टार्टअप एगोज के सहसंस्थापक अभिषेक नेगी ने कहा कि कोविड महामारी की दूसरी लहर के शुरु होने के साथ ही अंडों की मांग में जबरदस्त वृद्धि हुई है।

comments

.
.
.
.
.