Monday, Oct 25, 2021
-->
Muradnagar block became a hot spot of dengue, efforts to prevent by meeting

मुरादनगर ब्लॉक डेंगू का हॉट स्पॉट बना, बैठक कर रोकथाम के प्रयास

  • Updated on 10/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। डेंगू के बढ़ते प्रकोप ने प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की परेशानी बढ़ा दी है। सबसे अधिक विभाग मुरादनगर क्षेत्र को लेकर अधिक परेशान है। जहां मुरादनगर क्षेत्र से अब तक 60 से अधिक मरीज मिल चुक है। इसके अलावा यहां बुखार के मरीजों की संख्या भी अधिक है। जिसके बाद विभाग ने 9 गांवों में 5 दिन का कैंप लगाकर मरीजों की जांच कर रहा है। वहीं वीरवार को जिले में डेंगू के 14 नए मामले सामने आए है। इसमे से 4 मरीजों को अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है। मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद सरकारी अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाई जाएगी।

जिले में मुरादनगर ब्लॉक डेंगू का नया हॉट स्पॉट बन गया है। मुरादनगर के कई गावों में डेंगू तेजी से फैल रहा है। हालत गंभीर होने पर वीरवार को छुट्टी के वाबजूद सीएमओ ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ डेंगू को लेकर समीक्षा की। बैठक में बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए विभिन्न उपायों पर चर्चा की गई और रोकथाम के लिए योजना तैयार की गई। सीएमओ डॉ. भवतोष शंखधर ने बताया कि मुरादनगर क्षेत्र के 9 गांवों में 5 दिन का सर्वे अभियान चलाया जा रहा है। इस दौरान बुखार के मरीजों की खोज की जा रही है और उन्हें जांच व उपचार के लिए स्वास्थ्य केंद्र भेजा जा रहा है। इसके साथ ही क्षेत्र में एंटी लार्वा स्प्रे करने के साथ लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है।

डेंगू संक्रमण की रोकथाम के लिए स्कूलों को जागरूकता कार्यक्रम करने के साथ आरडब्ल्यूए के साथ भी बैठकें की जा रही हैं। 18 अक्टूबर से संचारी रोग नियंत्रण अभियान के दौरान पूरे जिले में सर्वे की योजना बनाई गई है। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. आरके गुप्ता ने बताया कि मुरादनगर क्षेत्र में सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर 2 अतिरिक्त लैब टैक्नीशियन नियुक्त किए गए हैं। जिससे लोगों को जांच के लिए किसी तरह की परेशानी ना हो। इसके अलावा क्षेत्र में मेडिकल कैंप भी लगाए जा रहे हैंए जिनके जरिए बुखार के मरीजों की जांच की जा रही है। मुरादनगर क्षेत्र में निगरानी भी बढ़ाई गई है।

बढ़ाई जा रही बेडों की संख्या 
जनपद में सरकारी अस्पतालों में डेंगू के मरीजो के लिए 80 बेड बढ़ाने की तैयारी की जा रही है। अभी फिलहाल 40 ही बेड आरक्षित हैं। वहीं सीएचसी और अस्पतालों में बेड को लेकर मारामारी शुरू हो गई है। जिले में डेंगू मरीजों की संख्या 561 हो गई है। एक की मौत हो चुकी है। वर्तमान में जिले में डेंगू के 66 मरीज अस्तालों में भर्ती हैं, जिसमें 28 सरकारी और 38 प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती हैं। 
 

comments

.
.
.
.
.