Monday, Oct 25, 2021
-->
NDRF saved the life of a young man drowning during immersion in Ganga Canal

गंग नहर में विसर्जन के दौरान डूब रहे युवक की एनडीआरएफ ने बचाई जान

  • Updated on 9/19/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। देश में कहीं भी कोई बड़ी आपदा आती है तो एनडीआरएफ हमेशा मुस्तैदी से काम करती दिखती है। बीते कई सालों में हमनें इसके सैकड़ों उदाहरण देखे हैं। जब एनडीआरएफ के जवानों ने अपनी जान को जोखिम में डालकर मुश्किल भरे हालातों में फंसे लोगों को राहत पहुंचाई है। रविवार को फिर से राष्ट्रीय आपदा मोचन बल यानि एनडीआरएफ दिल्ली के एक शख्स के लिए संकटमोचक बना और उसकी जान बचाई। घटना दिल्ली से सटे गाजियाबाद में  मुरादनगर के छोटा हरिद्वार गंग नहर की है। जहां गणपति विसर्जन के दौरान डूब रहे एक शख्स को एनडीआरएफ जवान ने बचा लिया। 

रविवार को बड़ी संख्या में लोग घरों से गणपति विसर्जन के लिए घरों से निकले और मुरादनगर स्थित गंग नगर के छोटा हरिद्वार घाट पर पहुंचे। जानकारी के अनुसार दिल्ली के जोहरीपुर गांव निवासी अविनाश उम्र 30 वर्ष अपने गांव से गणेश मूर्ति विसर्जन के लिए ग़ाजिय़ाबाद के आस्था केंद्र छोटा हरिद्वार (गंग नहर) मुरादनगर पहुंचे थे। विसर्जन के दौरान लगभग दोपहर साढे 12 बजे अचानक पैर फिसल जाने से अविनाश नहर में डूबने लगे। घाट पर एनडीआरएफ की टीम मौजूद थी। टीम कमांडर प्रदीप उरांव की कमान में सतर्कता दिखाते हुए डूबते हुए व्यक्ति को जीवित बचा लिया गया। 

बटालियन कमांडेंट पीके तिवारी ने बताया कि वर्तमान समय में गणेश विसर्जन उत्सव पर एनडीआरएफ की दो टीमें यमुना नदी वज़ीराबाद और छोटा हरिद्वार मुरादनगर में तैनात की गई है। हालांकि गाजियाबाद में जि़ला प्रशासन की ओर से एनडीआरएफ की तैनाती के संबंध में कोई मांग नहीं कि गयी थी। परंतु एनडीआरएफ की तरफ से स्वत: संज्ञान लेते हुए टीमों को तैनात किया गया है, ताकि श्रद्धालुओं की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके। जिसकी वजह से एक युवक की जान बच गई। 
 

comments

.
.
.
.
.