Thursday, Aug 11, 2022
-->
No symptoms found in those who got vaccinated, getting healthy in home isolation

वैक्सीन लगवाने वाले संक्रमितों में नहीं मिला कोई लक्षण, होम आइसोलेशन में हो रहे स्वस्थ

  • Updated on 12/11/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका के बीच कोरोनारोधी वैक्सीन लगवाने वालों का आंकड़ा धीरे-धीरे बढ़ रहा है। वहीं, जिले में अब तक दोनों डोज लगवाने वाले 96 लोग संक्रमित हो चुके है। लेकिन किसी भी मरीज में कोरोना लक्षण सामने नहीं आया। चिकित्सकों के अनुसार इसमें से किसी को भी अस्पताल में भर्ती करने जरूरत नहीं पड़ी और जल्द ही स्वस्थ भी हो गए।

16 जनवरी 2021 से कोरोना से बचाव का टीकाकरण शुरू कर दिया गया। जिले में शासन स्तर से 27 लाख लोगों को दोनो डोज लगाई जानी है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अब तक जिले में 40 लाख लोगों को वैक्सीन की डोज लग चुकी है। इसमें से 25 लाख को पहली जबकि 15 लाख लोगों को दोनों डोज लगाई जा चुकी है। जिले में वैक्सीनेशन शुरु होने के बाद से अब तक ऐसे लगभग 250 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आए हैं जिन्हें वैक्सीन की केवल एक डोज लगी थी।

हालांकि इनमें से महज 50 लोगों को ही अस्पतालों में भर्ती करने की जरूरत पड़ी। अधिकारियों के अनुसार उनकी हालत गंभीर नहीं हुई और वह होम आइसोलेशन में रहते हुए स्वस्थ भी हो गए। इसके अलावा वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने वाले 96 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आए। इसमें से 72 लोग ऐसे है, जिन्हें कोई कोरोना का लक्षण नहीं पाया गया।

जबकि शेष 24 लोगों में बहुत कम लक्षण थे। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. आरके गुप्ता के अनुसार अधिक बार यह देखा गया है कि वैक्सीनेशन के बाद संक्रमण की आशंका 90 प्रतिशत तक कम हो जाती है। यदि कोई संक्रमित होता भी है तब वह गंभीर स्थिति में नहीं होता। अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है लोग को वैक्सीन जरूर लगवाएं। 

comments

.
.
.
.
.