Samajwadi Party is in a phase of change Akhilesh Yadav break down many committees of SP

समाजवादी पार्टी में जारी है बदलाव का दौर, अखिलेश ने सपा के कई समितियों को किया भंग

  • Updated on 8/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में समाजवादी पार्टी (SP) को लोकसभा (Lok Sabha) में मिली अप्रत्याशित असफलता के बाद पार्टी ने कई बड़े फैसले किए। लेकिन पार्टी में अभी भी बदलाव का दौर जारी है। इस सिलसिले में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने उत्तर प्रदेश के सपा पार्टी अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल (Naresh Uttam Patel) को छोड़कर समाजवादी पार्टी के सभी जिला (District) और महानगर (Metropolitan) कार्यकारिणी और इनके अध्यक्षों (Presidents) को एक साथ भंग (Break Down) कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक ऐसा आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के मद्देनजर भी किया जा रहा है।

J&K: कठुआ में प्रशासन का बड़ा फैसला, सोशल मीडिया एडमिन को थाने में पंजीकृत कराना होगा ग्रुप

चारों युवा संगठनों के राष्ट्रीय अध्यक्षों को भी किया भंग 

समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता (Spoke Person) राजेन्द्र चौधरी (Rajendra Chaudhari) ने इस बारे में बयान दिया कि सभी विधानसभा क्षेत्रों की समितियों को इनके अध्यक्षों के साथ तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है। राजेन्द्र चौधरी ने आगे बताया कि समाजवादी पार्टी के चारों युवा संगठनों की राष्ट्रीय कार्यकारिणी भी इसके राष्ट्रीय अध्यक्षों सहित भंग कर दी गई है। 

विपक्ष को अमित शाह का करारा जवाब, कहा- सरकार ने अर्थव्यवस्था पर बेहतरीन काम किया

जल्द ही बनाए जाएंगे नये कार्यकारिणी

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसके अलावा सभी युवा संगठनों के प्रदेश अध्यक्षों के साथ इसके कार्यकारिणी को भी तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है। राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के दूसरे सभी प्रकोष्ठों के प्रदेश अध्यक्षों सहित उनकी कार्यकारिणी, और उनकी जिला और महानगर कार्यकारिणी भी अध्यक्षों के साथ भंग कर दिया है। सपा में नये कार्यकारिणियों को जल्द ही बनाया जाएगा।

प्रियंका ने दागा सवाल- मोदी सरकार बताए, अर्थव्यवस्था की दुर्दशा क्यों है?

लोकसभा चुनावों में अच्छा नहीं था सपा का प्रदर्शन

बता दें कि लोकसभा चुनावों में सपा का प्रदर्शन अच्छा नहीं था। समाजवादी पार्टी के नये नीतियों से जनता के बीच खोये हुए विश्वास को फिर हासिल करने के लिए इसे एक कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है। राजेन्द्र चौधरी ने ये भी बताया कि लोकसभा चुनाव के बाद अध्यक्ष अखिलेश यादव लगातार राज्य की जनता से मिलकर उनका विश्वास हासिल कर रहे हैं, और पार्टी को नये जोश के साथ फिर से खड़ा करने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.