Friday, Sep 30, 2022
-->
Shinde faction MLA claims 12 Shiv Sena MPs will join our faction

शिंदे गुट के विधायक का दावा -शिवसेना के 12 सांसद हमारे गुट में शामिल होंगे

  • Updated on 7/6/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। शिवसेना के एक सांसद द्वारा पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के समर्थन की घोषणा का आग्रह करने के एक दिन बाद, पार्टी के एक बागी विधायक ने बुधवार को दावा किया कि 18 सांसदों में से 12 जल्दी ही एकनाथ शिंदे गुट में शामिल हो जायेंगे ।      जलगावं जिले में अपने विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में संवाददाताओं से बातचीत करते हुये विधायक गुलाब राव पाटिल ने कहा कि शिंदे गुट पार्टी का गौरव बहाल करेगा । पाटिल पूर्ववर्ती उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्री रह चुके हैं। 

गोवा में पंचायत चुनाव के आदेश में दखल देने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

  •  

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे (बागी गुट) पास 55 में से 40 विधायक हैं और 18 में से 12 सांसद हमारे साथ आ रहे हैं। फिर पार्टी किसकी हुई? मैंने चार सांसदों से व्यक्तिगत रूप से मुलाकात की है । हमारे साथ 22 पूर्व विधायक भी हैं।’’ शिवसेना के लोकसभा सदस्य राहुल शेवाले ने मंगलवार को उद्धव ठाकरे से आग्रह किया कि वह पार्टी के सांसदों से राष्ट्रपति पद की राजग उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करने के लिये कहें क्योंकि मुर्मू आदिवासी हैं और समाज में उनका महती योगदान है। 

राष्ट्रपति चुनाव में समर्थन मांगने के लिए नॉर्थ-ईस्ट पहुंचीं मुर्मू, स्वागत बैनर पर उठे सवाल

उद्धव ठाकरे गुट और एकनाथ शिंदे गुट के विश्वस्तों ने अपने अपने समूह के असली शिवसेना होने का दावा किया है। शिवसेना के 55 में से 40 विधायक मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ हैं। पाटिल ने कहा कि उन्होंने सत्ता के लिए पार्टी नहीं छोड़़ी बल्कि ‘‘सत्ता छोड़ी है जबकि हम मंत्री थे।’’ उन्होंने कहा ‘‘एक नहीं, बल्कि आठ मंत्रियों ने पार्टी छोड़ी, इसका मतलब है कि हम हमारी शिवसेना को बचाना चाहते हैं।’’

नए IT Rules में सरकार के कुछ सामग्री को ‘ब्लॉक’ करने के आदेश को Twitter ने दी कोर्ट में चुनौती

शिवसेना के बागी विधायक ने राज ठाकरे से की मुलाकात 
शिवसेना के बागी विधायक सदा सरवणकर ने बुधवार को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे से उनके आवास पर मुलाकात की। शिवसेना के एकनाथ शिंदे गुट के नेता सरवणकर ने कहा, 'उनकी सर्जरी हुई है इसलिए मैंने उनसे शिष्टाचारवश मुलाकात की। हम पास में ही रहते हैं।’’ सरवणकर मध्य मुंबई से विधायक हैं जहां राज ठाकरे रहते हैं। महाराष्ट्र विधानसभा में राज ठाकरे की पार्टी मनसे का एक ही विधायक है। मनसे ने पिछले महीने हुए विधान परिषद तथा राज्यसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का समर्थन किया था। मनसे ने विश्वास प्रस्ताव के दौरान शिंदे नीत नई सरकार के पक्ष में मतदान किया था।

लालू यादव को एयर एंबुलेंस से दिल्ली ले जाया जाएगा, नीतीश ने अस्पताल में की मुलाकात

शिवसेना ने लोकसभा में अपना मुख्य सचेतक बदला 
उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना ने बुधवार को राजन विचारे को सांसद भावना गवली की जगह लोकसभा में पार्टी का मुख्य सचेतक नामित किया। यह जानकारी शिवसेना नेता संजय राउत ने दी। राउत ने संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी को लिखे पत्र में कहा, ‘‘आपको सूचित किया जाता है कि शिवसेना संसदीय दल ने राजन विचारे, सांसद (लोकसभा) को भावना गवली, सांसद (लोकसभा) के स्थान पर लोकसभा में तत्काल प्रभाव से मुख्य सचेतक नामित किया है।’’     राउत शिवसेना संसदीय दल के नेता हैं। गवली महाराष्ट्र में यवतमाल-वाशिम लोकसभा संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करती हैं। वह शिवसेना के उन सांसदों में से एक हैं जिन्होंने सुझाव दिया था कि एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में विद्रोह के बीच शिवसेना को फिर से भाजपा के साथ गठबंधन कर लेना चाहिए।     

CIC ने ‘एकदम गलत’ उत्तर देने पर दिल्ली पुलिस को लगाई फटकार

comments

.
.
.
.
.