uttrakhand-news-trivendra-singh-rawat

वेलनेस समिट की तैयारी में जुटी सरकार, इन्वेस्टर्स समिट की तरह एक और बड़े आयोजन पर उद्योग विभाग ने शु

  • Updated on 8/13/2019

देहरादून/ ब्यूरो: इन्वेस्टर्स समिट की तरह ही प्रदेश में एक और मेगा शो की तैयारी शुरू हो गई है। वेलनेस समिट के नाम से होने वाले इस आयोजन के लिए उद्योग विभाग को नोडल एजेंसी बनाया गया है। आयुष और अन्य संबंधित विभागों के साथ तालमेल बनाकर इसके आयोजन का ड्राफ्ट तैयार किया जा रहा है।

सरकार ने अक्टूबर 2018 में उत्तराखंड में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया। इसमें देश-विदेश के दर्जनों बड़े उद्योगपतियों ने भाग लिया। राज्य सरकार का दावा है कि इन्वेस्टर्स समिट से प्रदेश में 1.20 लाख करोड़ के निवेश के एमओयू साइन हुए। इनमें से 16 हजार करोड़ का निवेश हो चुका है। सरकार का मानना है कि यदि आधा निवेश भी होता है तो उत्तराखंड की आर्थिकी का विकास होगा, प्रदेश से बेरोजगारी की समस्या भी दूर हो जाएगी।

बहरहाल निवेश के लिए एमओयू करने वाले निवेशकों से सरकार लगातार सम्पर्क कर रही है और उनकी विभिन्न दु‍विधाओं को समाप्त किया जा रहा है। इसी कड़ी में सरकार ने अब वेलनेस समिट कराने का मन बनाया है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र का कहना है कि यह समिट योगा, आयुर्वेद और पर्यटन पर आधारित होगा। इससे राज्य को इस क्षेत्र में नई पहचान मिलेगी तथा अधिक से अधिक निवेशक आकर्षित होंगे।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर उद्योग विभाग ने इसकी तैयारी शुरू की है। इसकी कार्ययोजना भी तैयार कर ली गई है। केन्द्र से हरी झंडी मिलने के बाद आयोजन की तारीख भी घोषित कर दी जाएगी। उद्योग विभाग के सूत्रों ने बताया कि वेलनेस समिट में आयुर्वेद, योग, पर्यटन और स्वास्थ्य सेक्टरों को शामिल किया जाएगा।

ग्रामीण आर्थिकी को मजबूत करना लक्ष्य: सीएम
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र का कहना है कि इन्वेस्टर्स समिट हो या फिर वेलनेस समिट। इन सभी आयोजनों का मकसद ग्रामीण आर्थिकी को मजबूत करना है। सीएम ने कहा कि इसके लिये बड़ी संख्या में ग्रोथ सेन्टरों की स्थापना की जा रही है। अब तक 67 ग्रोथ सेन्टरों की स्थापना की जा चुकी है। आगामी दो माह में 40 और ग्रोथ सेन्टर धरातल पर दिखाई देंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सोलर पावर प्रजेक्ट भी ग्रामीण आर्थिकी को मजबूत करेगा। पर्वतीय क्षेत्रों के उद्यमियों को 600 करोड़ के प्रोजेक्ट आवंटित किये जा चुके हैं। शीघ्र ही 200 करोड़ के और प्रोजेक्ट आंवटित किये जायेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.