Sunday, Dec 05, 2021
-->
East Ladakh India China Pangong Tso PLA sobhnt

India China Clash: एक तरफ चल रही है बातचीत, दूसरी तरफ तेजी से सैनिकों को बदल रहा चीन

  • Updated on 10/12/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूर्वी लद्दाख (East Ladakh) में भारत और चीन के बीच  तनाव चरम पर है। ऐसे में चीन (China) और भारत (India) से सेना लम्बे समय से एक दूसरे के सामने सीमा रेखा पर टिकी हुई हैं। एक तरह भारत के चुशुल में आज सैन्य कमांडरों के बीच 7 वें दौर की बैठक चल रही है। वहीं दूसरी तरफ खबर मिली है कि पैंगोंग सो (Pangong Tso) के उत्तरी तट पर चीन की आर्मी ने अपनी गश्त बढ़ा दी है। 

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर हुए कोरोना पॉजिटिव, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

अतिरिक्त ब्रिगेड की तैनाती की
जानकारों के मुताबिक चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने पैंगोंग के उत्तर में तैनात सैनिकों का मनोबल बढ़ाने के लिए अतिरिक्त ब्रिगेड की तैनाती की है। सैन्य कमांडरों के मुताबिक यहां वह फ्रंट लाइन पर खड़े जवानों को मौसम की मार से बचाने के लिए बार-बार उनकी तैनाती को बदल रहे हैं ताकि उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखा जा सके। इससे सैनिकों को मनोबल भी बढ़ सकता है। 

अभिनेत्री से राजनेता बनी साउथ की एक्‍ट्रेस खुशबू सुंदर BJP में हुईं शामिल 

वायुसेना अध्यक्ष ने दी थी चेतावनी

इससे पहले भारतीय वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार सिंह भदौरिया (RKS Bhadauria) का बड़ा बयान सामने आया है, उन्होंने कहा है कि भारत दोनों फ्रंट पर युद्ध लड़ने के लिए तैयार है।

हाथरस मामले में सरकार का आरोप, दंगे के लिए बनाई बेवसाइट, पूरे प्रदेश को अशांत करने की साजिश 

पाकिस्तान और चीन के साथ युद्ध लड़ने को तैयार
वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने कहा है कि भारतीय वायुसेना पाकिस्तान और चीन दोनों के साथ एक साथ युद्ध लड़ने के लिए तैयार है। वह कहते हैं हमारी सेना हर मोर्चे पर दुश्मन सेना के खिलाफ बीस साबित होगी। चीन तवान पर उन्होंने कहा है कि इसका फायदा पाकिस्तान उठाने में लगा हुआ है। 

 

यहां पढ़ें अन्य महत्वपूर्ण खबरें-

comments

.
.
.
.
.