Tuesday, Jun 28, 2022
-->
india, america, australia, japan preparing to encircle the dragon, modi leaves for ''''quad'''' summit

ड्रैगन को घेरने की तैयारी में भारत, अमरीका, ऑस्ट्रेलिया और जापान, ‘क्वाड’ समिट के लिए मोदी रवाना

  • Updated on 5/22/2022

नई दिल्ली/नेशनल ब्यूरो। दक्षिण चीन सागर में चीन की बढ़ती दखल और ताइवान पर ड्रैगन की कुदृष्टि को रोकने के लिए ‘क्वाड’ देशों के समूह भारत, अमरीका, ऑस्ट्रेलिया और जापान एक मजबूत रणनीति बनाने की तैयारी में हैं। सोमवार से तोक्यों में शुरू होने जा रहे दो दिवसीय (23-24 मई) ‘क्वाड’ शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा अमरीकी राष्ट्रपति जो. बाइडन, जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा और ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीस शामिल होंगे। सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पीएम मोदी रविवार को जापान के लिए रवाना हो गए।

मेहुल चोकसी के खिलाफ देश में ‘अवैध प्रवेश’ का आरोप डोमिनिका ने लिया वापस
‘क्वाड’ शिखर सम्मेलन ऐसे वक्त में होने जा रहा है, जब रूस-यूक्रेन का युद्ध जारी है। इस युद्ध को लेकर रूस के प्रति भारत के नरम रुख से अमरीका और ऑस्ट्रेलिया के साथ कुछ मतभेद उभर आए थे। इसके बाद यह पहला मौका होगा, जब भारतीय प्रधानमंत्री और अमरीकी राष्ट्रपति तथा ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री आमने-सामने मिलेंगे। इसलिए हर दृष्टि से इस शिखर सम्मेलन पर दुनिया की नजर है। माना जा रहा है कि इस शिखर सम्मेलन में हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने की साझा रणनीति पर चर्चा करने के साथ ही रूस-यूक्रेन युद्ध पर भी बातचीत हो सकती है। सम्मेलन से इतर पीएम मोदी की बाइडन, किशिदा और अल्बनीस के साथ अलग-अलग द्विपक्षीय बैठकें भी होनी है। इन द्विपक्षीय बैठकों पर सबकी निगाहें टिकी हैं।


पीएम के जापान यात्रा के आधिकारिक कार्यक्रम के मुताबिक आठ घंटे की उड़ान के बाद सोमवार को सुबह मोदी तोक्यो पहुंचेंगे। दो दिनों में करीब 40 घंटे तक वे जापान में रहेंगे और इस दौरान 23 बैठकों में शामिल होंगे। कई कंपनियों के सीईओ, प्रवासी भारतीयों और जापान के कारोबारियों के साथ भी उनकी कई बैठकें प्रस्तावित हैं। जापान रवाना से पहले पीएम मोदी ने एक बयान में भारत-जापान के बीच विशेष रणनीतिक एवं वैश्विक भागीदारी को मजबूत करने के उद्देश्य से चल रही बातचीत जारी रहने की उम्मीद जताई। उन्होंने कहा कि मार्च की शिखर वार्ता के दौरान, प्रधानमंत्री किशिदा और मैंने जापान से भारत में सार्वजनिक तथा निजी निवेश और वित्त पोषण को अगले पांच वर्षों में पांच ‘ट्रिलियन’ जापानी येन तक पहुंचाने की हमारी मंशा की घोषणा की थी। उन्होंने बताया कि दोनों देशों के बीच आर्थिक सहयोग को और मजबूत बनाने के लिए जापान के प्रमुख उद्योगपतियों और जापान में रह रहे भारतीय समुदाय के करीब 40,000 लोगों से मुलाकात करने के लिए वे उत्साहित हैं।

उत्पाद शुल्क में कटौती और महंगाई को लेकर सरकार फैला रही है भ्रम-कांग्रेस
मोदी ने कहा कि इस यात्रा के दौरान वह अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे, जिसमें बहुआयामी द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत बनाने के उपायों पर चर्चा होगी। मोदी ने कहा कि हम क्षेत्रीय घटनाक्रम और समसामयिक वैश्विक मुद्दों पर भी संवाद जारी रखेंगे। ऑस्ट्रेलिया के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीज पहली बार क्वाड शिखर वार्ता में हिस्सा लेंगे। मोदी ने कहा कि मैं उनके साथ द्विपक्षीय बैठक को लेकर उत्साहित हूं, जिसमें वृहद रणनीतिक साझेदारी के तहत भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बहुआयामी सहयोग और परस्पर हित के क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

comments

.
.
.
.
.