Tuesday, Aug 21, 2018

वेब से पैदा हो रहे खतरे, देशों की लिस्ट में इस स्थान पर है भारत

  • Updated on 3/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ग्लोबल साइबर सुरक्षा प्रदाता कैस्पेर्सकी लैब ने कहा कि वेब आधारित खतरों का सामना करने वाले देशों की सूची में भारत दुनिया भर में 33 वें स्थान पर है।

फर्म ने हाल में सीआईएसओ शिखर सम्मेलन में भारत में खतरे के प्रबंधन और रक्षा परिदृश्य पर बात करते हुए कहा था कि दुनियाभर में भारत ने स्थानीय खतरों में 13 वां स्थान और देश में स्थित दुर्भावनापूर्ण मेजबानों के साथ हुई घटनाओं  पर दुनिया भर में 37 वां स्थान हासिल किया है।

 Twitter की बड़ी कार्रवाई, इस कारण बंद कर दिए ढेरों मशहूर अकाउंट्स

इसके अलावा कंपनी ने कहा, 27.4% उपयोगकर्ता वेब-जनित खतरों से प्रभावित हुए जबकि 62.7% उपयोगकर्ताओं को स्थानीय खतरों ने हमला किया था। 

भारत की खतरे की घटनाओं पर एक संक्षिप्त अवलोकन देने के बाद कैस्पेर्सकी लैब (दक्षिण एशिया) के जीएम श्रीमान भायानी ने हैकर्स के लिए प्राथमिक और सबसे सामान्य लक्ष्य माने जाने वाले जैसे दूरसंचार, चिकित्सा, वित्त और राज्य क्षेत्रों को दर्शाया।

सम्मेलन में पूरे भारत के लगभग 100 प्रतिभागी थे और इसमें सूचना सुरक्षा की दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण नाम शामिल थे। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.