india will give big challenge to leave the satellite

भारत को चीन देगा सैटेलाइट छोड़ने में बड़ी चुनौती

  • Updated on 7/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चीन (China) साल 2025 तक अंतरिक्ष (Space) में करीब सौ उपग्रह (Satellite) प्रक्षेपित करने की योजना बना रहा है। ये उपग्रह अंतरिक्ष (Satellite Space) की कक्षा में पहले से मौजूद सौ से अधिक उपग्रहों (Satellite) के अतिरिक्त होंगे। चीन राष्ट्रीय अंतरिक्ष प्रशासन के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

पाक में ट्रेन व मालगाड़ी की भिड़ंत, 21 मरे

विश्व आॢथक मंच के आंकड़े के अनुसार, 2022 तक अपना अंतरिक्ष स्टेशन बनाने की योजना (Planning) के साथ अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी में बड़े पैमाने पर निवेश कर रहे चीन के अंतरिक्ष में फिलहाल करीब 280 उपग्रह मौजूद हैं जबकि इसकी तुलना में भारत के पिछले साल नवंबर तक केवल 54 उपग्रह अंतरिक्ष में थे।

प्रेस की आजादी हर कीमत पर रहे बरकरारः प्रसार भारती अध्यक्ष

 अंतरिक्ष में 830 उपग्रहों के साथ, अमेरिका इस दौड़ में सबसे आगे है। सरकारी ‘ग्लोबल टाइम्स’ (Global Times) ने चीन के राष्ट्रीय अंतरिक्ष प्रशासन के एक अधिकारी यू क्यी के हवाले से कहा कि चीन ने अंतरिक्ष प्रौद्योगिकियों में सफलता के साथ अंतरिक्ष अर्थव्यवस्था तेज करने के लिए मौलिक एवं योग्य माहौल तैयार किया है। उन्होंने कहा कि चीन ने 2018 में 39 प्रक्षेपण मिशनों के साथ नया रिकॉर्ड बनाया और विश्व में सर्वाधिक प्रक्षेपण वाली सूची में पहले स्थान पर है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.