Thursday, Jul 09, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 9

Last Updated: Thu Jul 09 2020 10:29 AM

corona virus

Total Cases

768,424

Recovered

476,554

Deaths

21,144

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA223,724
  • TAMIL NADU114,978
  • NEW DELHI104,864
  • GUJARAT38,419
  • UTTAR PRADESH31,156
  • TELANGANA25,733
  • KARNATAKA25,317
  • WEST BENGAL22,987
  • ANDHRA PRADESH22,259
  • RAJASTHAN21,577
  • HARYANA17,504
  • MADHYA PRADESH15,284
  • BIHAR13,274
  • ASSAM11,737
  • ODISHA10,624
  • JAMMU & KASHMIR8,675
  • PUNJAB6,491
  • KERALA5,623
  • CHHATTISGARH3,305
  • UTTARAKHAND3,161
  • JHARKHAND2,854
  • GOA1,813
  • TRIPURA1,580
  • MANIPUR1,390
  • HIMACHAL PRADESH1,077
  • PUDUCHERRY1,011
  • LADAKH1,005
  • NAGALAND625
  • CHANDIGARH490
  • DADRA AND NAGAR HAVELI373
  • ARUNACHAL PRADESH270
  • DAMAN AND DIU207
  • MIZORAM197
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS141
  • SIKKIM125
  • MEGHALAYA88
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
lockout for 21 days will be more successful then social quarantine or traffic ban

कोरोना के खिलाफ सोशल क्वारंटाईन और ट्रैफिक बैन से ज्यादा सफल होगा 21 दिनों का लॉक आऊट

  • Updated on 3/26/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना के खौफ से बचाने के लिए पीएम मोदी ने पूरे देश को 21 दिनों के लिए लॉक डाऊन कर दिया है। कुछ लोग इस फैसले का समर्थन कर रहे हैं तो कुछ इसके हर तरह खिलाफ हैं। सोशल मीडिया पर भी इन दिनों लॉक डाऊन को लेकर जोक्स और मीम्स की बाढ़ आई हुई है। मगर मिशीगन यूनिवर्सिटी की जांच में सामने आया कि ये लॉक डाऊन किसी भी अन्य उपाय से ज्यादा कारगर है और लोगों को प्रभावी तरीके से इस महामारी से बचा सकता  है।

Corona पैकेज में मोदी सरकार ने मजदूर, गरीब को क्या दिया, जानें एक नजर में

अमेरिका के मिशीगन में हुआ अध्ययन 16 लाख ज्यादा हो सकता था मरीजों का आंकड़ा
मिशीगन के अध्ययन में पाया गया कि अगर कोरोना वायरस को रोकने के लिए कोई उपाय नहीं किए जाते तो मई खत्म होते-होते संक्रमण के आंकड़े 16 लाख तक पहुंच सकते हैं। रिपोर्ट में माना जा रहा है कि तीन हफ्तों के लॉकडाऊन का सही से पालन किया जाए तो कोरोना का खतरा पूरी तरह खत्म हो सकता  है।

21 दिन के लॉक डाउन को लेकर सोशल मीडिया पर स्वरा भास्कर का छलका दर्द, कहा...

सबसे ज्यादा कारगर उपाय है लॉक आऊट, होगा प्रभाव
आंकड़ों की जुबानी मानें तो कोई उपाय नहीं किए गए तो 15 मई तक एक लाख में से 161 लोग इसके शिकार हो जाएंगे। यातायात बैन कर दिया जाए तो 15 लाख लोगों में से सिर्फ 48 लोग इसके शिकार होंगे। वहीं सभी लोग सोशल क्वारंटीन कर दिया गया तो 15 लाख में से सिर्फ 4 लोग ही इसके शिकार होंगे। मगर तीन हफ्तों के इस निर्णय के बाद ये आंकड़ा बिलकुल खत्म भी हो सकता है।

कोरोना का कहर, मोदी सरकार ने किया आर्थिक पैकेज का ऐलान

कोरोना को पूरी तरह खत्म कर सकता है तीन हफ्तों का लॉक आऊट
इस रिपोर्ट के गणित को ऐसे भी समझ सकते हैं कि वर्तमान दर के मुताबिक 15 अप्रैल तक संक्रमण के मामले 4800, 15 मई तक सवा नौ लाख और एक जून तक 14.60 लाख और 15 जून तक 16.30 लाख तक पहुंच जाएंगे। अभी तक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि 17, 18 और 19 मार्च को भारत में 119, 126 और 133 मामले सामने आ सकते हैं। मगर असलियत में 142, 156 और 194 मामले सामने आए हैं। लिहाजा इस रिपोर्ट को काफी गंभीरता से लिया जा रहा है। मगर इन तीन  हफ्तों के लॉक डाऊन के बाद के आंकड़ों के बारे में रिपोर्ट काफी सकारात्मक उम्मीदें लिए हुए है।

comments

.
.
.
.
.