pakistan may create two categories for visas of sikh pilgrims visiting kartarpur

करतारपुर दौरा करने वाले सिख श्रद्धालुओं के वीजा के लिये दो श्रेणियां बना सकता है पाक

  • Updated on 9/6/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पाकिस्तान ने करतारपुर में दरबार साहिब गुरुद्वारा का दौरा करने के इच्छुक सिख श्रद्धालुओं की दो श्रेणियां बनाने का फैसला किया है जिसमें से एक भारत से आने वाले श्रद्धालुओं की होगी तो दूसरी दुनिया के दूसरे हिस्सों से आने वालों की। मीडिया में शुक्रवार को आई खबरों में यह जानकारी दी गई।

अफगानिस्तान में फिदायीन विस्फोट, 12 लोगों की मौत, 42 घायल

डान अखबार ने खबर दी कि विदेश मंत्रालय ने करतारपुर के दौरे के लिये आवेदन करने वाले सिख तीर्थयात्रियों के लिये ऑनलाइन वीजा प्रणाली में धार्मिक पर्यटन की श्रेणी को जोडऩे का फैसला किया है।

खबर के मुताबिक, विदेश मंत्रालय ने फैसला किया है कि मंत्रालय द्वारा दो अलग श्रेणियों में वीजा आवेदन स्वीकार किये जाएंगे, एक भारतीय मूल के सीख तीर्थयात्रियों की जो दुनिया में कहीं और बसे हुए हैं जबकि दूसरी भारत में बसे सिख तीर्थयात्रियों की।’’इसमें कहा गया कि प्रस्तावित कदम के लिये विदेश मंत्रालय द्वारा मंत्रिमंडल से इजाजत मांगी जाएगी।

पीएम मोदी ने पुतिन को दिया बड़ा तोहफा, कहा- रूस को एक अरब डॉलर का कर्ज देगा भारत


खबर में कहा गया कि करतारपुर की यात्रा के लिये सभी धार्मिक पर्यटन वीजा अनुरोधों पर प्रक्रियाओं को सात से 10 दिनों के अंदर पूरा कर लिया जाएगा।

 भारत और पाकिस्तान के बीच बुधवार को इस बात पर सहमति बनी थी कि प्रस्तावित करतारपुर गलियारे से गुरुद्वारा दरबार साहिब जाने वाले भारतीय तीर्थयात्रियों को वीजा मुक्त यात्रा की इजाजत होगी लेकिन सीमापार मार्ग पर समझौते को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका।

इससे पूर्व दोनों पक्षों में सहमति बनी थी कि पाकिस्तान प्रस्तावित गलियारे से प्रतिदिन 5000 भारतीय तीर्थयात्रियों को गुरुद्वारा जाने की इजाजत देगा और विशेष दिवसों पर यह संख्या बढ़ भी सकती है।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.