2 faced snake found in america forest

अमेरिका के जंगलों में मिला 2 मुंह वाला सांप, लोगों के उड़ गए होश

  • Updated on 9/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दुनिया में कई अजीबोगरीब चीजें होती हैं जिन पर विश्वास करना थोड़ा मुश्किल होता है। आपने एक मुंह वाले इंसान, जानवरों और पक्षी को तो देखा ही होगा, लेकिन क्या आपने दो मुंह वाले एक जीव को देखा है। अगर नहीं तो आज हम अपनी इस खबर में एक ऐसी तस्वीर दिखाएंगे जिसको देखने के बाद आपके होश उड़ जाएंगे।

बेहोशी का ड्रामा कर इस कुत्ते ने जीता लोगों का दिल, देखें Viral Video

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ अजीबोगरीब सांप

दरअसल, सोशल मीडिया (Social Media) पर एक तस्वीर काफी तेजी से वायरल हो रही है। इस तस्वीर में एक सांप (Snake) है जिसके दो मुंह साफ (Dual Face Snake) तौर पर देखें जा सकते हैं। हैरानी की बात तो यह है कि इस सांप को अमेरिका (America) के न्यूजर्सी (New Jersey) में दो लोगों ने पकड़ा है जो बर्लिंगटन काउंटी में हर्पेटोलॉजिकल एसोसिएट्स के लिए काम कर रहे हैं।

नकल रोकने के लिए टीचर ने छात्रों के सिर पर रखे डिब्बे, वायरल हुई फोटो

दो मुंह होने के कारण पड़ा इस सांप का नाम डबल डेव

पर्यावरण सलाहकार (Environmental consultant) का कहना है कि इस सांप को डेव नामक एक व्यक्ति ने पकड़ा है जिसके नाम पर इस सांप का भी नाम रखा गया है डबल डेव (Double Dave)। तस्वीर में दिख रहा यह सांप देखने में काफी अजीबोगरीब है। साथ ही इस सांप का एक शरीर है लेकिन उसके दो मुंह, 4 आंखें और 4 जुबान है।

सांड के साथ खिलवाड़ करना लोगों को पड़ा महंगा, यहां देखें Viral Video

जंगल ही होता है इस सांप का असली जीवन

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पर्यावरण सलाहकार डेव शेंडलर ने बताया है कि, इस तरह के सांपों के लिए जंगल ही उनका जीवन होता है, यदि उन्हें जंगल से बाहर रखा गया तो यह उनके लिए खतरनाक हो सकता है। इसके आगे डेव ने बताया कि, इन सांपों की लंबाई लगभग 8 से 10 इंच होती है। इसके अलावा यह सांप बाकि सांपों (Snakes) के मुताबिक काफी धीरे चलते हैं और इन सांपो का शिकार कोई भी आसानी से कर सकता है। बता दें कि, इस तरह के सांपों को रखने के लिए स्पेशल परमीशन की जरूरत होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.