Friday, Apr 03, 2020
धू-धूकर जले रावण, मेघनाद, कुंभकरण के पुतले

धू-धूकर जले रावण, मेघनाद, कुंभकरण के पुतले

स्पेशल स्टोरी

विजयादमशी पर रावण का अहंकार चूर-चूर हो गया। जय श्री राम के नारों के साथ रावण, मेघनाद और कुंभकरण के पुतले धू-धू कर जले। एक तरफ, पुतले जल रहे थे, तो दूसरी तरफ लोग उल्लास मनाते हुए मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम की जय जयकार कर रहे थे। विजयादशमी पर शहर भर में विभिन्न स्थानों पर दशहरा मेला आयोजित किया गया।

Share Story