Thursday, Feb 02, 2023
Mobile Menu end -->
भारतीय संस्कृति का प्रतीक है आचार्य द्विवेदी का साहित्य: डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी

भारतीय संस्कृति का प्रतीक है आचार्य द्विवेदी का साहित्य: डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी

स्पेशल स्टोरी

आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी का व्यक्तित्व और उनका साहित्य दोनों भारतीय संस्कृति के प्रतीक हैं। मध्यकालीन साहित्य की व्याख्या करते हैं व आधुनिकता और परंपरा को समझाते हैं। अपने समय के मनुष्य को साहित्य से गठने का प्रयास करते हैं। यह सब करते हुए वे समाज के सबसे निम्न वर्ग और वर्ण के व्यक्ति, वंचित और

Share Story
  • महाभारत मेरे लिए एक धर्मनिरपेक्ष ग्रंथ है : शशि थरूर

    महाभारत मेरे लिए एक धर्मनिरपेक्ष ग्रंथ है : शशि थरूर

    साहित्य अकादमी के साहित्योत्सव के 5वें दिन का मुख्य आकर्षण शशि थरूर का संवत्सर व्याख्यान रहा। जिसमें उन्होंने कहा कि मैं महाभारत को आम लोगों का महाभारत मानता हूं। महाभारत मेरे लिए एक धर्मनिरपेक्ष ग्रंथ है। मैं इसके द्वारा भारत के ज्ञान और धर्म की परिभाषा का पुनर्निरीक्षण करता चाहता हूं।

  • स्वाधीनता ही साहित्य का आधार और स्वप्न है-विश्वनाथ प्रसाद तिवारी

    स्वाधीनता ही साहित्य का आधार और स्वप्न है-विश्वनाथ प्रसाद तिवारी

    स्वाधीनता मानवीय शब्दकोश का सबसे पवित्र शब्द है। उसकी चेतना, मनुष्य ही नहीं जीव मात्र में नैसर्गिक रूप से विद्यमान होती है। वह मनुष्य का चरम मूल्य है। दुनिया भर के मनुष्य ने स्वाधीनता के लिए जितने बलिदान दिए हैं, शायद ही किसी अन्य मूल्य के लिए दिए हों। स्वाधीनता ही साहित्य का भी आधार और स्वप्न है।

  • साहित्योत्सव का संस्कृति राज्य मंत्री मेघवाल करेंगे उद्घाटन

    साहित्योत्सव का संस्कृति राज्य मंत्री मेघवाल करेंगे उद्घाटन

    संस्कृति मंत्रालय के अंतर्गत संचालित साहित्य अकादमी का वार्षिक 6 दिवसीय साहित्योत्सव 10 मार्च से शुरू हो रहा है। केंद्रीय संस्कृति राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल इस उत्सव का आगाज करेंगे। इस दौरान वह वर्षभर की गतिविधियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे।

  • विश्व में फैली है भारतीय साहित्य व संस्कृति:वक्ता

    विश्व में फैली है भारतीय साहित्य व संस्कृति:वक्ता

    गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में  ''गणतंत्र भारत की साहित्यिक एवं सांस्कृतिक व्यापकताÓ विषय पर वेबीनार का आयोजन किया गया। इस अवसर पर भारत के अलावा 12 अन्य देशों के वक्ताओं ने अपने विचारों को व्यक्त करते हुए कहा कि भारत की संस्कृति और साहित्य विश्व भर में फैला हुआ है। उत्थान फाउंडेशन के तत्वावधान में अंत

  • पदमश्री से काम को पहचान मिली यह बहुत बड़ी बात : नजमा अख्तर

    पदमश्री से काम को पहचान मिली यह बहुत बड़ी बात : नजमा अख्तर

    मुझे बहुत खुशी है कि इस काबिल समझा गया। काम तो इंसान करता ही है, उसके काम की पहचान हो जाए यह बहुत बड़ी बात है। मैं धन्यवाद देना चाहती हूं प्रधानमंत्री को जिन्होंने मुझ पर विश्वास किया और कुलपति बनाकर कार्य करने का मौका दिया। मैं इसके बाद आपने मंत्री को भी धन्यवाद देना चाहती हूं ,साथ ही पूरे विश्ववि

  • हिंदी में हिमांशू वाजपेयी और अंग्रेजी में मेघा युवा साहित्य अकादमी पुरस्कार के लिए नामित

    हिंदी में हिमांशू वाजपेयी और अंग्रेजी में मेघा युवा साहित्य अकादमी पुरस्कार के लिए नामित

    साहित्य अकादमी ने युवा पुरस्कार एवं बाल साहित्य पुरस्कार 2021 की घोषणा कर दी है। हिंदी के लिए हिमांशु वाजपेयी को उनके कहानी-संग्रह किस्सा किस्सा लखनउवा लखनऊ के आवामी किस्से पर अंग्रेजी के लिए मेघा मजुमदार को उनके उपन्यास ए बर्निंग के लिए युवा पुरस्कार 2021 देने की घोषणा की गई है...

  • हिंदी के लिए दया प्रकाश सिन्हा, अंग्रेजी के लिए नमिता गोखले को साहित्य अकादमी पुरस्कार

    हिंदी के लिए दया प्रकाश सिन्हा, अंग्रेजी के लिए नमिता गोखले को साहित्य अकादमी पुरस्कार

    साहित्य अकादमी ने हिंदी के लिए दया प्रकाश सिन्हा को नाटक ‘सम्राट अशोक’ और अंग्रेजी उपन्यास थिंग्स टू लीव बिहाइंड के लिए नमिता गोखले को साहित्य अकादमी पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। अकादमी ने हिंदी अंग्रेजी समेत 20 भारतीय भाषाओं के लेखकों को वर्ष 2021 का साहित्य अकादमी पुरस्कार देने की घोषणा की है.

  • सावरकर की तारीफ में केंद्रीय सूचना आयुक्त उदय माहूरकर ने पढ़े कसीदे

    सावरकर की तारीफ में केंद्रीय सूचना आयुक्त उदय माहूरकर ने पढ़े कसीदे

    हिंदुत्व की राजनीतिक विचारधारा के प्रणेता माने जाने वाले विनायक दामोदर सावरकर की शख्सियत को ‘‘भारत रत्न’’ से ऊपर बताते हुए केंद्रीय सूचना आयुक्त उदय माहूरकर ने कहा कि अगर सावरकर को सर्वोच्च नागरिक सम्मान नहीं भी मिलता है, तो भी उनका कद अप्रभावित रहेगा

  • नई पीढी को सिख विरासत से जोडेगी सिख साहित्य व कला प्रदर्शनी, गुरुद्वारा बंगला साहिब में शुरू 

    नई पीढी को सिख विरासत से जोडेगी सिख साहित्य व कला प्रदर्शनी, गुरुद्वारा बंगला साहिब में शुरू 

    दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व को समर्पित सिख साहित्य व कला प्रदर्शनी गुरुद्वारा बंगला साहिब के सरोवर के किनारे शुरु हुई। गुरुद्वारा बंगला साहिब के हैड ग्रंथी ज्ञानी रणजीत सिंह ने अरदास की गई। इस मौके पर कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा व महासचिव हरमीत

  • यूनानी भाषा पर जेएनयू 22 से 28 अक्तूबर तक आयोजित करेगा कार्यशाला

    यूनानी भाषा पर जेएनयू 22 से 28 अक्तूबर तक आयोजित करेगा कार्यशाला

    जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में 22 से 28 अक्तूबर तक ग्रीक भाषा, संस्कृति और सभ्यता पर 7 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यशाला का आयोजन ग्रीक चेयर और स्कूल ऑफ लैंगुएज, लिटरेचर एंड कल्चरल स्टडीज व इंडो हीलिंग रिसर्च सेंटर तीनों मिलकर कर रहे हैं।