Wednesday, Oct 16, 2019
#GandhiJayanti: आखिर क्यों 2 अक्टूबर को ही याद आता है स्वच्छता अभियान

#GandhiJayanti: आखिर क्यों 2 अक्टूबर को ही याद आता है स्वच्छता अभियान

स्पेशल स्टोरी

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का मानना था कि जहां साफ-सफाई होती हैं वहीं पर ईश्वर का वास होता है। उन्होंने अपने जीवन में स्वच्छता को एक अहम हिस्सा माना और लोगों को भी स्वच्छता बनाए रखने संबंधी शिक्षा दी। वे चाहते थे कि भारत का हर एक नागरिक एकसाथ मिलकर देश को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान

Share Story