Monday, Jan 17, 2022
Mobile Menu end -->
खुद बनवाया था अपने लिए ग्यासुद्दीन तुगलक ने मकबरा

खुद बनवाया था अपने लिए ग्यासुद्दीन तुगलक ने मकबरा

स्पेशल स्टोरी

‘दारूल अमन’ यानि ‘शांति का आवास’ के रूप में अपने मकबरे को ग्यासुद्दीन ने जीते जी बनवाया था।  विशाल मकबरे में लाल बलूआ पत्थरों के साथ ही संगमरमर पर बेहतरीन नक्काशी की गई है। तुगलकाबाद किले से पहले यह मकबरा जुड़़ा हुआ था लेकिन अब बीच से सडक निकलने की वजह से मकबरा, किले से अलग हो गया है।

Share Story