Friday, Apr 03, 2020
एडवेंचर को बढ़ावा देने के लिए बनेगा अलग विभाग

एडवेंचर को बढ़ावा देने के लिए बनेगा अलग विभाग

स्पेशल स्टोरी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत (Trivendra Rawat) ने कहा कि साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे। राज्य सरकार ने एडवेंचर का  अलग से एक विभाग बनाने का निर्णय लिया है। जिसका अखिल भारतीय सेवा अधिकारी के निर्देशन में काम होगा। सोमवार को नेहरू पर्वतारोहण संस्थान में मुख्य अतिथि त्रिवे

Share Story
  • उत्तराखण्ड: राज्य में पकड़ा गया 8491 करोड़ का ई-वे बिल का फर्जीवाड़ा

    उत्तराखण्ड: राज्य में पकड़ा गया 8491 करोड़ का ई-वे बिल का फर्जीवाड़ा

    राज्य कर विभाग के अधिकारियों की सतर्कता से उत्तराखण्ड में 8491 करोड़ रुपये का ई-वे बिल फर्जीवाड़ा पकड़ में आया है। जालसाज इन ई-वे बिलों के जरिए टैक्स चोरी करने की फिराक में थे। यदि यह फर्जीवाड़ा समय पर पकड़ में नहीं आता, तो फौरी तौर पर केन्द्र सरकार को 6 करोड़ और राज्य सरकार को लगभग 220 करोड़...

  • उत्तराखंड: 4 दशक पहले हुई थी इस परियोजना की शुरुआत, निर्माण का रास्ता अब हुआ साफ

    उत्तराखंड: 4 दशक पहले हुई थी इस परियोजना की शुरुआत, निर्माण का रास्ता अब हुआ साफ

    लगभग चालीस वर्ष पहले जिन विद्युत परियोजनाओं का खाका तैयार किया गया उनके निर्माण का रास्ता अब साफ हुआ है। सिंचाई मंत्री ने आराकोट-त्यूनी और त्यूनी-प्लासू के नाम से चकराता क्षेत्र में प्रस्तावित इन परियोजनाओं को लेकर विधानसभा में स्थिति को साफ किया है...

  • देहरादून में गोदाम में ई-सिगरेट, दरवाजा खोलने में लगे तीन घंटे

    देहरादून में गोदाम में ई-सिगरेट, दरवाजा खोलने में लगे तीन घंटे

    प्रतिबंध के बावजूद शहर में खुलेआम ई-सिगरेट बेची जा रही है। सरकार के स्तर से मिली शिकायतों के बाद वृहस्पतिवार को एफडीए एवं कोटपा टीम ने संयुक्त रूप से गऊघाट में कार्रवाई कर आठ डिब्बे ई-सिगरेट जब्त किए। आरोपी व्यापारी के खिलाफ कोटपा अधिनियम के तहत कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है। वहीं, कार्रवाई क

  • कालाढूंगी में मिला 51mm का इलग बम, वन विभाग की टीम ने किया जमीनदोज

    कालाढूंगी में मिला 51mm का इलग बम, वन विभाग की टीम ने किया जमीनदोज

    कालाढूंगी रेंज के निहाल रिजर्व वन ब्लाक में बुधवार सुबह इलग बम (आसमान में तेज रोशनी करने वाला बम) मिलने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। सूचना पर कालाढूंगी पुलिस, सेना और वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंच कर बम को कब्जे में लेकर गड्ढे में दबाया। बम को डिफ्यूज करने के लिए आर्मी की टीम वीरवार को कालाढूंगी

  • त्वरित न्याय: दो माह से भी कम समय में नाबालिग से छेड़छाड़ में फैसला

    त्वरित न्याय: दो माह से भी कम समय में नाबालिग से छेड़छाड़ में फैसला

    देश में लड़कियों के प्रति हो रहे अपराधों की बढ़ती संख्या और ऐसे मामलों शीघ्र निपटारे की मांग के बीच रुद्रप्रयाग (Rudra Prayag) से एक त्वरित न्याय मिलने की राहत भरी खबर आई है। एक व्यक्ति ने 16 अक्तूबर को एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया गया। दो माह से भी कम समय में जज ने सुनवाई करते हुए मामल

  • 60 डॉक्टर सरकार के करोड़ों लेकर फरार, सवाल उठा तो शासन ने जवाब देना भी जरूरी नहीं समझा

    60 डॉक्टर सरकार के करोड़ों लेकर फरार, सवाल उठा तो शासन ने जवाब देना भी जरूरी नहीं समझा

    करार की शर्तें भंगकर उत्तराखंड से गायब होने वाले 60 डॉक्टरों से सरकार बांड की रकम वसूल नहीं पाई। वसूली तो दूर सरकार ने कैग को इस सवाल का जवाब तक देना उचित नहीं समझा कि ऐसा क्यों हुआ। त्रिवेन्द्र सरकार के पहले वर्ष के कामकाज पर भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक(कैग) ने कई गंभीर टिप्पणियां की है...

  • हरिद्वार में कच्ची शराब बनाते पकड़े गए दो स्कूली छात्र

    हरिद्वार में कच्ची शराब बनाते पकड़े गए दो स्कूली छात्र

     जिले में अवैध शराब का धंधा थमने का नाम नहीं ले रहा है। पुलिस की छापेमारी में दो जगहों पर कच्ची शराब बनाने के काले धंधे का भंडाफोड़ हुआ है। हैरत की बात यह है कि एक जगह से दो स्कूली छात्र कच्ची शराब बनाते पकड़े गए। आरोपी छात्रों का कहना है कि वे शराब माफिया के यहां मजदूरी करते हैं।

  • उत्तराखंड: भाजपा विधायक बोले, राज्य में खनन माफिया हावी

    उत्तराखंड: भाजपा विधायक बोले, राज्य में खनन माफिया हावी

    फारेस्ट रिजर्व समेत उत्तराखंड (Uttarakhand) की तमाम नदियों में अवैध खनन धड़ल्ले से हो रहा है। खनन में माफिया तत्व हावी हैं और उन्हें विभाग के ही कुछ लोगों का संरक्षण मिला हुआ है...

  • उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय में बढ़ी फीस पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक

    उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय में बढ़ी फीस पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक

    निजी आयुष कॉलेजों की मनमानी के चलते त्रिवेन्द्र सरकार (Trivendra Government) की जबरदस्त किरकिरी हुई है। छात्रों के आन्दोलन के सामने झुकी सरकार ने इन निजी कालेजों को हाईकोर्ट (Highcourt) के फैसले पर अमल करने के आदेश तो दे दिये, लेकिन इस आदेश का पालन करना सरकार के सामने बड़ी चुनौती होगी। यह बात इसलिये