Monday, Jan 24, 2022
Mobile Menu end -->
वैक्सीनेशन के चलते घातक नहीं रही तीसरी लहर

वैक्सीनेशन के चलते घातक नहीं रही तीसरी लहर

स्पेशल स्टोरी

राजधानी में कोरोना की तीसरी लहर दूसरी के मुकाबले तीसरी लहर में एक तिहाई मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी है। हालांकि अस्पतालों के आईसीयू में भर्ती मरीों की संख्या 12 प्रतिशत तक की बढ़ जरूर देखी गई। मगर मौम का आंकडा भी 4.5 प्रतिशत तक कम रहा है। तीसरी लहर के कम घातक होने का बड़ा कारण बड़ी संख्या में ल

Share Story